Search
Close this search box.

जन्मदिन विशेष: मुंबई में जन्म लेने वाले अमित शाह कैसे बन गए सियासत की दुनिया के चाणक्य?। amit shah birthday Born in Mumbai and belonging to a rich Gujarati family how did Amit Shah become the Chanakya

Share this post

Amit Shah- India TV Hindi

Image Source : PTI/FILE
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अमित शाह का आज जन्मदिन है। उन्हें सियासत की दुनिया का चाणक्य कहा जाता है। उनकी रणनीति किसी भी राज्य में पार्टी को जितवाने में अहम भूमिका निभाती है, वहीं विपक्ष के लिए वह हमेशा नई-नई चुनौतियां खड़ी करते रहते हैं। वह पीएम मोदी के करीबी और विश्वासपात्र हैं। पीएम मोदी और शाह की जोड़ी को बीजेपी की हिट जोड़ी कहा जाता है। 

कैसा था शुरुआती जीवन?

अमित शाह का जन्म 22 अक्टूबर 1964 को मुंबई में हुआ था। साल 2014 में वह उस वक्त काफी चर्चा में आए, जब उनकी रणनीतियों की वजह से बीजेपी ने लोकसभा चुनावों में प्रचंड जीत हासिल की। उसके बाद से अमित शाह ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और भारतीय राजनीति के क्षेत्र में तब से लेकर अब तक वह लगातार बुलंदियां हासिल करते चले आ रहे हैं। 

राजनीतिक सफर का आगाज कैसे किया?

अमित शाह का परिवार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ा हुआ था। इसीलिए वह भी कॉलेज के समय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) से जुड़ गए थे। बाद में शाह बीजेपी में शामिल हो गए। शाह 1983 में एबीवीपी से जुड़े, 1987 में उन्होंने बीजेपी युवा मोर्चा को ज्वाइन किया और साल 1997 में वह पहली बार विधायक बने। 

साल 2002 में वह उस वक्त काफी हाईलाइट हुए, जब उन्हें गुजरात का गृह मंत्री बनाया गया। शाह की कुशल रणनीतियों को देखते हुए बीजेपी ने साल 2014 में उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया। उनके नेतृत्व में बीजेपी ने प्रचंड जीत हासिल की। बाद में जब बीजेपी ने दूसरी बार सरकार बनाई तो अमित शाह को देश का गृह मंत्री बनाया गया।

सियासत की दुनिया में शाह को चाणक्य कहा जाता है क्योंकि वह जिस राज्य के लिए रणनीति बनाना शुरू कर देते हैं, वहां पार्टी को फायदा मिलने लगता है। साल 2014 और साल 2019 के चुनाव में उनकी रणनीतियों का विरोधी दलों ने भी लोहा माना। इन दोनों ही चुनावों में बीजेपी ने शानदार प्रदर्शन किया। कहा जाता है कि अमित शाह को शतरंज खेलने, क्रिकेट देखने और संगीत में काफी रुचि है। 

पीएम मोदी से मुलाकात कैसे हुई?

कहते हैं कि साल 1982 के आस-पास शाह अहमदाबाद की नारणपुरा शाखा में शाह और नरेंद्र मोदी की मुलाकात हुई थी। उस समय नरेंद्र मोदी संघ के प्रचारक थे। 

ये भी पढ़ें: 

राजस्थान विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने जारी की 43 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट, यहां जानें किसे मिला टिकट

‘चरम पर है नफरत, अल्पसंख्यक मुसलमानों का सफाया करना चाहती है BJP’, जयपुर में जमकर बरसे असदुद्दीन ओवैसी

Latest India News

Source link

Daily Jagran
Author: Daily Jagran

Leave a Comment

ख़ास ख़बरें

ताजातरीन