Search
Close this search box.

Case registered against Rajeev Chandrasekhar in Kerala | केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर पर केरल में केस दर्ज

Share this post

Kocchi Blast, Pinarayi Vijayan, Rajeev Chandrasekhar- India TV Hindi

Image Source : FILE
केरल के सीएम पिनराई विजयन और केंद्रीय राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर के बीच जमकर जुबानी जंग हुई थी।

तिरुवनंतपुरम: केरल के कोच्चि में हुए ब्लास्ट के बाद राजनीति अपने चरम पर है। इसी कड़ी में बीजेपी नेता एवं केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर और केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन द्वारा तीखी बयानबाजी देखी गई थी। अब खबर आ रही है कि केरल के एर्नाकुलम पुलिस स्टेशन में राजीव चंद्रशेखर के खिलाफ सामाजिक द्वेष फैलाने का मामला दर्ज किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया पर कोच्चि ब्लास्ट के बाद दिए गये बयान को आधार बनाते हुए IPC की धारा 153A के तहत केस दर्ज किया गया है।

केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री के बीच छिड़ी जुबानी जंग

बता दें कि इससे पहले केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन और केंद्रीय राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर के बीच सोमवार को जमकर जुबानी जंग हुई थी। बीजेपी नेता ने मुख्यमंत्री को ‘झूठा’ कहा था तो इसके जवाब में विजयन ने उन्हें ‘बेहद जहरीला’ करार दिया। X पर चंद्रशेखर के एक पोस्ट की मुख्यमंत्री द्वारा आलोचना किए जाने के बाद दोनों के बीच जुबानी जंग छिड़ गई। पोस्ट में केंद्रीय मंत्री रविवार को कोच्चि के पास एक ईसाई सभा में हुए सीरियल ब्लास्ट के लिए कथित तौर पर एक विशेष समुदाय पर आरोप लगाते दिखे। इन विस्फोटों में 3 लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक घायल हुए हैं।

चंद्रशेखर के बयान पर बुरी तरह भड़के विजयन

चंद्रशेखर ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के नेतृत्व में केरल का कट्टरपंथी तत्वों एवं कट्टरपंथ के प्रति नरम रुख रहा है। केंद्रीय मंत्री के पोस्ट को उनके सांप्रदायिक रुख का हिस्सा बताते हुए विजयन ने यह जानना चाहा कि केंद्रीय मंत्री ने किस सूचना के आधार पर उनके खिलाफ इस तरह की टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार पद पर बैठा कोई व्यक्ति कैसे इस तरह के बयान दे सकता है जबकि विस्फोट मामले की जांच जारी है। विजयन ने आरोप लगाया कि बीजेपी के नेता राजीव चंद्रशेखर के बयान पूरी तरह से एक खास मनोवृत्ति की झलक पेश करते हैं।

चंद्रशेखर ने विजयन पर साधा था निशाना

विजयन के बयान पर चंद्रशेखर ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा,‘मैंने हमास के बारे में बात की और ऐसा लगता है कि मुख्यमंत्री हमास और हमारे राज्य एवं देश के मुस्लिम भाइयों एवं बहनों को एक समान बताने की कोशिश कर रहे हैं।’ चंद्रशेखर ने विस्फोट की खबरें आने के बाद रविवार को ‘X’ पर पोस्ट किया था,‘भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे एक बदनाम मुख्यमंत्री (और राज्य के गृह मंत्री) पिनराई विजयन की गंदी बेशर्म तुष्टीकरण की राजनीति। दिल्ली में बैठकर इजरायल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, जबकि केरल में आतंकवादी हमास द्वारा जिहाद के खुले आह्वान के कारण निर्दोष ईसाइयों पर हमले और बम विस्फोट हो रहे हैं।’

‘कट्टरपंथी तत्वों के प्रति तुष्टिकरण का इतिहास’

चंद्रशेखर ने कहा कि उनका पोस्ट ‘हमास आतंकी को युवाओं की एक बड़ी सभा को संबोधित करने और उसे कट्टरवाद के लिए उकसाने का मौका देने तथा केरल सरकार या पुलिस द्वारा कोई हस्तक्षेप नहीं किए जाने के संदर्भ में था। उन्होंने कहा कि हम हमेशा कहते आए हैं कि विजयन के नेतृत्व में केरल का कट्टरपंथी तत्वों एवं कट्टरवाद के प्रति नरम रुख रहा है। चंद्रशेखर ने आरोप लगाया कि केरल में कांग्रेस एवं वाम मोर्चा दोनों का, राज्य में कट्टरपंथी तत्वों के तुष्टीकरण का इतिहास रहा है। केंद्रीय राज्य मंत्री ने दावा किया कि दोनों दलों ने राज्य में बढ़ते कट्टरपंथ को लेकर आंखें मूंद ली हैं। उन्होंने विजयन को ‘झूठा’ करार दिया।

कोच्चि के पास हुए विस्फोट में गई 3 की जान

चंद्रशेखर के बयान पर भड़कते हुए मुख्यमंत्री ने उन्हें ‘सिर्फ जहरीला नहीं’ बल्कि ‘बेहद जहरीला’ करार दिया गया। कोच्चि के निकट कलमश्शेरी में विस्फोट उस वक्त हुआ था जब रविवार को ईसाई समुदाय के ‘यहोवा के साक्षी’ संप्रदाय की प्रार्थना सभा का आयोजन हो रहा था। शुरू में विस्फोट में एक महिला की मौत हुई और 60 लोग घायल हुए जिनमें से 6 की हालत गंभीर थी। इसके बाद गंभीर रूप से घायल 6 लोगों में से 53 वर्षीय महिला ने दम तोड़ दिया। सोमवार सुबह तक घटना में 95 फीसदी तक झुलस गई 12 साल की लड़की के दम तोड़ने से मृतकों की संख्या बढ़कर 3 हो गई।

Latest India News

Source link

Daily Jagran
Author: Daily Jagran

Leave a Comment

ख़ास ख़बरें

ताजातरीन