Search
Close this search box.

फांसी पर लटका दो, कोई पछतावा नहीं; बेटे के कत्ल पर मां का कबूलनामा, बोली- पढ़ाई नहीं करता था

Share this post

त्रिपुरा के अगरतला में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां 9 साल के बेटे का चोरी करने और पढ़ाई न करने पर मां इतना भड़क गई कि उसने कथित तौर पर अपने कलेजे के टुकड़े की गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है। घटना की सूचना पर आस-पास के लोगों के होश उड़ गए हैं। अपना गुनाह कबूल करते हुए महिला ने बताया कि उसने अपने बेटे की हत्या कर दी है। इसके लिए उसे फांसी पर लटका दो। कोई पछतावा नहीं है।

यह सनसनीखेज घटना सोमवार शाम को अगरतला के जॉयनगर में घटी। आरोपी महिला की पहचान सुप्रभा के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी महिला को अपने बेटे के कत्ल के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। उसे आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। पुलिस अधिकारियों ने मामले में जानकारी दी कि जब वे मौके पर पहुंचे तो महिला घर पर अपने 9 साल के बेटे राजदीप के शव के पास बैठी हुई थी। पुलिस ने शव के पास से रस्सी और एक बांस की छड़ी बरामद की है। पुलिस को संदेह है कि आरोपी महिला ने अपने बेटे के कत्ले में इन्हें हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया था।

पति लापता, बेटे के गलत व्यवहार से दुखी थी मां
बटाला चौकी प्रभारी राकेश बैद्य ने कहा, “हमने मामला दर्ज कर लिया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं।” उनाकोटि जिले के कैलाशहर की रहने वाली सुप्रभा बल दिहाड़ी मजदूरी का काम करती है। उसका पति लापता है और वह अपने बेटे के साथ किराए के घर में रहती थी। महिला अपनी बड़ी बेटी की शादी करवा चुकी है।

मां ने हत्या की बात कबूली
पुलिस द्वारा घटनास्थल पर पूछे जाने पर आरोपी मां ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उसने बताया कि वह अपने बेटे के खिलाफ गलत व्यवहार से दुखी थी। उसे अक्सर अपने बेटे के पैसे चुराने की कई शिकायतें मिल रही थी। महिला ने बताया, “मैं उसकी हरकतों के कारण काम पर नहीं जा सकती थी। वह पैसे चुराता था, कभी पढ़ाई नहीं करता था। लोगों ने उसकी वजह से मुझे काम से निकाल दिया। इसलिए मैंने उसे मार डाला। इसके लिए आप मुझे फांसी दे सकते हैं। मुझे कोई पछतावा नहीं है।

Daily Jagran
Author: Daily Jagran

Leave a Comment

ख़ास ख़बरें

ताजातरीन